यादें


यादें

पीछे मुड के हमने जब देख़ा ,गुज़रा वो ज़माना याद आया।

बीती एक कहानी याद आइ, बीता एक फ़साना याद आया।…..पीछे.

सितारों को छूने की चाहत में, हम शम्मे मुहब्बत भूल गये।(2)

जब शम्मा जली एक कोने में, हम को परवाना याद आया।…..पीछे.

शीशे के महल में रहकर हम, तो हँसना-हँसाना भूल गये।(2)

पीपल की ठंडी छाँव तले वो हॅसना-हॅसाना याद आया।…..पीछे.

दौलत ही नहीं ज़ीने के लिये, रिश्ते भी ज़रूरी होते है।(2)

दौलत ना रही जब हाथों में, रिश्तों का खज़ाना याद आया।…..पीछे.

शहरॉ की ज़गमग-ज़गमग में, हम गीत वफ़ा के भूल गये।(2)

सागर की लहरॉ पे हमने, गाया था तराना याद आया।…..पीछे.

चलते ही रहे चलते ही रहे, मंजिल का पता मालूम न था।(2)

वतन की वो भीगी मिट्टी का अपना वो ठिकाना याद आया।…..पीछे.

अपनॉ ने हमें कमज़ोर किया, बाबुल वो हमारे याद आये।(2)

कमज़ोर वो ऑखॉ से उन को वो अपना रुलाना याद आया।…..पीछे.

अय “राज़” कलम तुं रोक यहीं, वरना हम भी रो देंगे।(2)

तेरी ये गज़ल में हमको भी कोइ वक़्त पुराना याद आया।…..पीछे.


8 टिप्पणियाँ

  1. शीशे के महल में रहकर हम, तो हँसना-हँसाना भूल गये।(2)

    पीपल की ठंडी छाँव तले वो हॅसना-हॅसाना याद आया।…..पीछे.
    अय “राज़” कलम तुं रोक यहीं, वरना हम भी रो देंगे।(2)

    तेरी ये गज़ल में हमको भी कोइ वक़्त पुराना याद आया।…..पीछे.
    રઝીયાબેન
    ઘણીજ ઉમદા ગઝલ આ બે શેર વધુ ગમ્યા

  2. अय “राज़” कलम तुं रोक यहीं, वरना हम भी रो देंगे।(2)
    तेरी ये गज़ल में हमको भी कोइ वक़्त पुराना याद आया।

    kya baat hai !! bahot achchhe !!! …

    din-b-din aapka mashq-e-sukhan rang laataa dikkhaayee de raha hai …

    aise hi likhte rahiye … bahot umda alfaaz utar rahe hai qalam se …

  3. सितारों को छूने की चाहत में, हम शम्मे मुहब्बत भूल गये।(2)

    जब शम्मा जली एक कोने में, हम को परवाना याद आया।…..पीछे.

    शीशे के महल में रहकर हम, तो हँसना-हँसाना भूल गये।(2)

    पीपल की ठंडी छाँव तले वो हॅसना-हॅसाना याद आया।…..पीछे.

    दौलत ही नहीं ज़ीने के लिये, रिश्ते भी ज़रूरी होते है।(2)

    दौलत ना रही जब हाथों में, रिश्तों का खज़ाना याद आया।…..पीछे.

    wah ji wah bahut hi lajawab gazal,ye sher bahut hi pasand aaye.bahut badhai


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s